भीगे हुए बादाम खाएं और उठायें स्वास्थ्य लाभ

भीगे हुए बादाम खाएं और उठायें स्वास्थ्य लाभ

बादाम खाने में मीठा और तीखा दोनों तरह का होता है। आपको बता दें कि मीठा वाला बादाम खाने में इस्तेमाल किया जाता है और तीखा वाला बादाम तेल बनाने में इस्तेमाल किया जाता है। बादाम में अधिक मात्रा में न्यूट्रीशन और मिनरल्स पाए जाते हैं जैसे प्रोटीन, ओमेगा 3 फैटी एसिड, ओमेगा 6 फैटी एसिड, विटामिन E, कैल्शियम और फॉस्फोरस आदि ज्यादा मात्रा में होते हैं। कुरकुरे और मीठे बादाम को या तो कच्चा खाया जाता है या फिर उसे किसी मीठे और स्वादिष्ट व्यंजन में स्वाद को बढाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। बादाम ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है या फिर शरीर की नर्व और मांसपेशियों की क्रियाविधि को सामान्य रूप से चलाने में मदद करता है।

कई सारे न्यूट्रीनिष्ट यह मानते हैं कि कच्चे बादाम की तुलना में भीगे हुए बादाम का सेवन करना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि रात भर इसे भीगाने के बाद इसके छिलके में मौजूद टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और ज्यादातर न्यूट्रीयेंट्स हमें मिल जाते हैं। आइये आपको भीगे हुए बादाम खाने के फायदों के बारे में बता रहें हैं।

1- पाचन बढाता है : जब बादाम को भिगोकर खाया जाता है तो यह आसानी से पच जाता है और पाचन की सम्पूर्ण क्रिया को सुचारू रूप से चलाता है और पेट को स्वस्थ रखता है।

2- प्रेगनेंसी के लिए अच्छा होता है : गर्भवती महिलाओं को भीगे बादाम का सेवन जरुर करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें और उनके होने वाले बच्चे को पूरा न्यूट्रीशन मिलता है जिससे दोनों स्वस्थ रहते हैं।

3- दिमाग स्वस्थ रहता है : डॉक्टर्स का यह मानना है कि रोजाना सुबह सुबह 4 से 6 बादाम का सेवन करने से आपकी मेमोरी तेज़ होती है और आपका सेंट्रल नर्वस सिस्टम ठीक से काम करता है जिससे दिमाग स्वस्थ रहता है।

4- कोलेस्ट्राल को कम करता है : बादाम में मौजूद मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और विटामिन E की वजह से यह शरीर में मौजूद कोलेस्ट्राल को कम करता है और ब्लड में गुड कोलेस्ट्राल की मात्रा को को बढाता है।

5- हार्ट के लिए अच्छा होता है : भीगे बादाम में मौजूद प्रोटीन, पोटैशियम और मैग्नीशियम हार्ट को स्वस्थ रखने के लिए जरुरी होते हैं। इसके अलावा इसमें ढेर सारे एंटी-आक्सीडेंट गुण होने की वजह से यह हार्ट की खतरनाक बीमारियों को भी दूर करता है।

6- ब्लड प्रेशर नियंत्रित करता है : भीगे हुए बादाम में ज्यादा पोटैशियम और कम मात्रा में सोडियम होने की वजह से यह ब्लडप्रेशर के साथ और दूसरी हार्ट से जुडी समस्याओं को नियंत्रित करता है। इसमें मौजूद मैग्नीशियम की वजह से यह ब्लड के प्रवाह को भी सुचारू रूप से नियंत्रित करता है।

7- वजन कम करता है : अगर आप मोटापे से परेशान हैं और अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अपनी डाइट में भीगे हुए बादाम को शामिल करें। ऐसा करने से आपको देर तक भूख नहीं लगती है जिससे आप अपना वजन आसानी से कम कर सकते हैं।

8- कब्ज़ दूर करता है : भीगे हुए बादाम का सेवन करने से आपको कब्ज़ आदि की समस्या नहीं होती है क्योंकि बादाम में अधिक मात्रा में फाइबर होता है जिसकी वजह से आपक पेट अच्छे से साफ़ होता है।

9- इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है : कई सारी स्टडी के अनुसार भीगे बादाम में प्री-बायोटिक गुण होता है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करता है। प्री-बायोटिक गुण होने की वजह से यह आंतो में मौजूद गुड बैक्टीरिया के निर्माण को बढाता है जिससे ऐसी कोई बिमारी नहीं होती है जिसका असर आपकी आंतो पर पड़े।

10- त्वचा की एजिंग को दूर करता है : स्किन से झुर्रियों को दूर करने के लिए कोई और चीजें इस्तेमाल करने के बजाय आपको भीगा हुआ बादाम खाना चाहिए क्योंकि यह एक नैचुरल एंटी-एजिंग फ़ूड माना जाता है। सुबह सुबह भीगे हुए बादाम का सेवन करने से चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं और आपकी त्वचा स्वस्थ रहती है।


Share it
Top
To Top